Amrish Puri | Amrish Puri Biography, Amrish Puri Death Date

Amrish Puri Death Date

Amrish Puri 80, 90 के दसक का एक ऐसा नाम जो हर बड़े बुजुर्ग के जुबान पर होता था। इनका नाम लेते ही बस एक ही dialog जुबान पर आता है “मुगैंबो खुस हुआ”। तो चलिए आगे बढ़ते है और आप को रूबरू कराते है जैसे की Amrish Puri death date और बाकि के जीवन के बारे में।

Amrish Puri Biography

Amrish Puri का पूरा नाम अमरीश लाल पूरी था। Amrish Puri इंडियन सिनेमा के जाने माने प्रसिद्ध कलाकारों में से एक थे। इनकी सबसे बड़ी पहचान इनकी प्रतिष्ठित खलनायक का रूप है जो हर एक के जुबान पर होती थी। अमरीश पूरी का जन्म पंजाब के एक शहर जिसका नाम नवांशहर है मे हुआ था।

Amrish Puri साहब ने अपने कैर्रिएर लाइफ में 400 से भी ज्यादा फिल्मो में काम कर चुके थे। इनकी सबसे बड़ी कामयाबी जो इनको प्रसिध्द बनाती है वो है इनका खलनायक का रूप। अपने इस खलनायिकी रूप से वो इंडियन सिनेमा के उच्च दर्जे वाले कलाकार में जाने लगे थे उनकी खलनाईकी का रूप पुरे दुनिया भर में प्रसिद्ध हो गया था। इनका ये रूप लोगों को इतना ज्यादा पसंद आने लगा था की लोग इनके सिवा किसी और को खलनायक के रूप में देखना पसंद नई करते थे।

Amrish Puri साहब जब पहली बार मुंबई आये थे तो इनको पहले सफलता नई मिली थी। अपने पहले स्क्रीन टेस्ट में ये फ़ैल हो चुके थे। फिर इन्हो ने सिनेमा को छोड़ कर नौकरी करने की ठानी। लेकिन उनकी किस्मत में तो कुछ और ही लिखा था जो एक न एक दिन होना था। किसी ने ठीक ही कहा है, भगवान के घर देर है पर अंधेर नहीं। ठीक उसी समय उन्हें एक जाने माने थियेटर जिसका नाम पृथ्वी थियेटर था उसमे एक प्लेस करने का मौका मिला। जिसके बाद से लोगो को इनका काम काफी पसंद आया। और उसी एक प्लेस ने इनकी किस्मत चमकाना सुरु कर दिया था। इस प्लेस में इन्हे संगीत नाटक अकादेमी अवार्ड से भी नवाजा गया था। इसके बाद इनके किस्मत का पहिया आगे बढ़ना सुरु कर दिया था। आगे चल कर इनको ढेर सारे विज्ञापन और फिल्मो में काम मिलना सुरु हो गया था।

Amrish Puri साहब ने बहुत ढेर सारे भाषा में भी काम किया जैसे की हिंदी, कन्नड़, मराठी, पंजाबी, मलयालम, तेलुगु और तमिल।

सुरु सुरु में Amrish Puri साहब सपोर्टिंग खलनायक के रूप में काम किया करते थे। लेकिन जैसे जैसे उनकी काबलियता बढ़ती गयी और लोगो से सराहना मिलता गया वो मुख्य भूमिका में नजर आने लगे। उनकी सबसे पहली फिल्म मुख्य खलनायक के रूप में थी जिसका नाम हम पांच था जो की 1980 में फिल्माया गया था। 1982 में आयी उनकी एक फिल्म जिसका नाम विधाता था, जो सुभाष घई जी द्वारा फिल्माया गया था इसमें इनका जगावर चौधरी वाला चरित्र काफी सराहा गया था।

इनकी कुछ मजेदार, प्रसिद्ध खलनायक रूप और संवाद इस प्रकार हैं :-

जैसे के की MR. INDIA फिल्म का इनका प्रसिद्ध संवाद “मोगाम्बो खुस हुआ” जो की 1987 में अनिल कपुर के साथ फिल्माई गयी थी।

विधाता में “जगावर”, मेरी जंग में “ठकराल”, त्रिदेव में “भुजंग”, घायल में “बलवंत राय”, दामिनि में बैरिस्टर चड्ढा और कारन अर्जुन में “ठाकुर दुर्जन सिंह”

Amrish Puri साहब ने नेगेटिव रोले के साथ साथ पॉजिटिव रोले पर भी काम किया था जैसे की दिलवाले दुल्हनियाँ ले जायेंगे में पिता का रोल, घातक, फूल और कांटें, परदेस, विरासत।

Amrish Puri Family

इनके पिता का नाम लाला निहाल चंद और माता का नाम वेद कौर था। इनके परिवार में इनके चार भाई बहन, जिसमे से दो चमन पूरी और मदन पूरी भी अभिनेता रह चुके थे। ये दोनों इनके छोटे भाई थे। और दूसरी इनकी छोटी बहन का नाम चंद्रकांता था इनके बड़े भाई का नाम हरीश पूरी था। इनसे जन्मे इनके दो बच्चे जिनका नाम नम्रता पुरी, राजीव पुरी।

Amrish Puri Brother

इनके परिवार में इनके चार भाई बहन, जिसमे से दो चमन पूरी और मदन पूरी भी अभिनेता रह चुके थे। ये दोनों इनके छोटे भाई थे। और दूसरी इनकी छोटी बहन का नाम चंद्रकांता था इनके बड़े भाई का नाम हरीश पूरी था। इनसे जन्मे इनके दो बच्चे जिनका नाम नम्रता पुरी।

Amrish Puri Age

अमरीश पूरी जी का उम्र 72 साल था जब उनकी निधन हुआ था।

उनका जीवन कार्य 22 जून 1932 से 12 जनवरी 2005 तक था।

Amrish Puri Death

अमरीश पूरी जी की मृत्यु का कारण ब्लड कैंसर था, उनकी मृत्यु ब्रेन सर्जरी के दौरान कोमा में जाने से हुई थी।

Amrish Puri Death Date

अमरीश पूरी जी की मृत्यु 12 जनवरी 2005 में हुई थी।

Amrish Puri Last Movie

अमरीश पूरी जी लास्ट मूवी हलचल में नजर आये थे जो की 2004 में रिलीज़ हुई थी जिसमे मुख्य कलाकार अक्षय खन्ना और करीना कपूर थी।

इसे भी पढ़े :- Elon Musk Biography In Hindi

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.