What Is Cryptocurrency In Hindi | Cryptocurrency Meaning In Hindi

what is cryptocurrency in hindi

क्रिप्टो करेंसी क्या है और कैसे काम करती है

What Is Cryptocurrency In Hindi ( Cryptocurrency Meaning In Hindi ) क्रिप्टो कोर्रेंसी को अगर हम अलग अलग करे तो ये एक करेंसी को दरसाता है। और करेंसी के बारे में हम सभी जानते है की यह अलग अलग जगहों पर अलग होते है। जैसा की हम सभी लोग जानते है की लगभग सभी देश की करेंसी उनके अनुकूल बनायीं गयी है। और जब भी हमें किसी सामान की जरुरत पड़ती है तो उसे हम पैसा यानि की अपनी करेंसी वाली नोट देते है। तो ये बात हो गयी करेंसी के बारे में, अब बात करते है की आखिर क्रिप्टो कोर्रेंसी क्या है। तो क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल प्रणाली है, जिसके अंतर्गत हम अपने पैसे को डिजिटली लेते देते है। आसान या सरल भासा में बात करे तो इसका मतलब है एक ऐसा पैसा जो आप के हाथ में न रह कर ऑनलाइन होता है जिसका उपयोग आप लेन देन में करते हो।

जानिये क्रिप्टो करेंसी क्या है ? ( What Is Cryptocurrency )

जैसा की हमने आप से ऊपर के ब्लॉक में बताया की यह एक डिजिटल प्लेटफार्म है अपने पैसो को ऑनलाइन लेन देन करने के लिए। क्रिप्टो करेंसी सर्व प्रथम 2009 में लाया गया था जिसमे सबसे पहले “Bitcoin” नाम की करेंसी को जोड़ा गया था। सुरु सुरु में इसके बारे में लोगो को कुछ पता नहीं था लेकिन जैसे जैसे ये अपने छाप छोड़ता गया लोग इससे वाकिफ होने लगे। और आज यह लोगो के जुबान पर है और लोग इसे जानना चाहते है। अभी के समय में इसमें काफी सरे करेंसी को जोड़ा जा चूका है। अगर आप को शेयर मार्केट के बारे में थोड़ा बहुत भी पता होगा तो आप इसको अच्छे से समझ जायेंगे।क्रिप्टो करेंसी एक Computer Algorithm पर के आधार पर बनाया गया तकनीक है जो की Blockchain Technology पर काम करता है।

Types Of Cryptocurrency

क्रिप्टो करेंसी के प्रकार के बारे में बात करे तो इसके ढेर सरे करेंसी है और आगे चल कर ये और ज्यादा भी हो सकती है लेकिन हम कुछ करेंसी के बारे में बात करेंगे जो फिलहाल ज्यादा प्रसिद्ध हुआ है।

  • Bitcoin (BTC): तो इस श्रेणी में सर्व प्रथम नाम लिया जायेगा Bitcoin का क्यों की जब भी क्रिप्टो करेंसी का नाम आया है तो लोगो ने Bitcoin को जरूर याद किया है और करे भी क्यों नहीं एक मात्र ऐसा करेंसी जो अभी तक की सबसे मूल्यवान करेंसी में से एक है
  • Ethereum (ETH): दूसरे नंबर की श्रेणी में हमने रखा है Ethereum को जिसकी मूल्य मान Bitcoin से काम है और यह दूसरे नंबर पर आता है इसकी सुरुवात सन् 2015 में किया गया था इस करेंसी के और दो हिस्से है
  • Cardano (ADA): यह एक सार्वजनिक ब्लॉकचीन प्लेटफार्म है इसकी स्थापना Ethereum के कोफाउंडर द्वारा 2015 में किया गया था और इसका का शुभारंभ 2017 में किया गया
  • Litecoin (LTC): यह करेंसी लगभग Bitcoin की तरह समान है इसकी सुरुवात सन्न 2011 में अक्टूबर महीने में किया गया था
  • Bitcoin Cash (BCH): ये करेंसी Bitcoin से मिलता जुलता है लेकिन इसकी मूल्य मान बिटकॉइन से काम है
  • Ripple (XRP): इस करेंसी का भी काफी नाम है मार्किट में ये एक उस बेस्ड कंपनी के द्वारा बनाया गया था जिसे सन् 2012 में जारी किया गया
  • Dogecoin (DOGE): यह करेंसी कुछ दिन पहले काफी प्रचलित हुई थी इसको ६ दिसंबर 2013 को जारी किया गया था और देखते ही देखते इसके एक महीने के अंदर मिलियंस विसिटर्स हो गए थे

How Cryptocurrency Works

तो चलिए अब बात करते है की आखिर क्रिप्टो करेंसी कैसे काम करती है। तो सबसे पहले आप लोग यह जान लीजिये की ये एक ब्लॉकचैन तकनीक पर काम करती है। जो की आप के डिजिटल पैसे को व्यवस्थित और सुरच्छित रखता है और आप के सभी लेन देन का ब्यौरा रखता है। जब आप क्रप्टो करेंसी के अंदर किसी भी करेंसी को खरीदते या बेचते है तो इसे इनकी भाषा में “cryptocurrency mining” कहते है। इसका ख्याल रखने और इसका देख भाल करने वाले, जो इसको कोडिंग के माध्यम से चलाते है उन्हें Miners कहा जाता है। Miners का काम आप से सारे लेन देन को एक ब्लॉक के अंदर रख के उसे सुरक्षा प्रदान करना होता है।

Cryptocurrency In India

क्रिप्टो करेंसी की बात यदि हम भारत में करे तो, इसने अपनी छाप भारत में भी छोड़ दिया है। बहुत से भारतीय लोग इसमें इंटरेस्ट रखने लगे है। लेकिन कुछ लोग अभी भी इसमें इन्वेस्ट करने से डरते है। हलाकि इसे अभी भी भारत में पूरी तरह मान्यता नहीं मिला है। क्रप्टो करेंसी में इन्वेस्ट करने के लिए ढेर सारे cryptocurrency app है, जिनकी मदद से आप अपने cryptocurrency exchange कर सकते है या सरल सब्दो में बोले तो इसमें इन्वेस्ट कर सकते है।

List of Some Cryptocurrency app

भारत में कुछ cryptocurrency app है जिनके माध्यम से आप इनमे cryptocurrency mining कर सकते है। ये सारे ऍप्स आप को प्ले स्टोर पर आसानी से मिल जायेंगे। ये सारे ऍप्स बिलकुल शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने जैसे है अगर आप को थोड़ा भी ट्रेडिंग का नॉलेज होगा तो आप इसे आसानी से कर लेंगे। तो चलिए बात करते है उन सभी ऍप्स की लिस्ट की जो की इंडिया में उपलब्ध है।

Cryptocurrency For Beginners In India

भारत में जो लोग क्रिप्टो करेंसी की शुरुआत करना चाहते है। उनको कुछ बातो का ख्याल रखना चाहिए जैसे की उन्हें जब भी इसमें इन्वेस्ट करना हो सबसे पहले इसकी पूरी अच्छे से जानकारी ले तथा मार्केट के मूल्य को समझे। बिना सोचे समझे कही पर भी पैसा न लगाए। हो सके तो ज्यादा से ज्यादा जानकारी इकठ्ठा करे और उन पर विचार करे। जैसा की पहले भी बताया गया की भारत में अभी लोग इसे लेकर काफी कंफ्यूज है। क्यों की इसे सरकार द्वारा अभी तक कोई हरी झंडी नहीं मिली है। इसिलए बिगिनर्स के लिए ये थोड़ा मुश्किल हो सकता है। लेकिन फिर भी आप मार्केट के मूल्य को देखे उनपर निगरानी बना के आप इनमे इन्वेस्ट कर सकते है। अगर आप इनमे इन्वेस्ट करने से पहले अपने किसी खास की राय लेना चाहे तो आप इसमें अच्छा कर सकते है।अगर आप पूरी तरह मन बना लिए है की नहीं मुझे क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट करना ही है। तो आप न्यूज़ चैनल, सोशल मीडिया, विज्ञापन की मदद से मार्केट की मूल्य को समझ सकते है। तथा इसमें ट्रेडिंग या माइनिंग करने के लिए ऊपर दिए गए ऍप्स का उसे कर सकते है।

Cryptocurrency के फायदे क्या क्या है ?

जब भी कोई इंसान नयी चीज़ लेने जाता है तो उसके मन में एक ही सवाल होता है की इससे मुझे फायदा क्या होगा। तो इसी उलझन को दूर करते हुए जान लीजिये सिप्रो करेंसी के कुछ फायदे।

  • क्रिप्टो करेंसी के कीमतों का उछाल काफी देखने को मिलता है तो इसमें आप को काफी मुनाफा मिल सकता है
  • इसमें इन्वेस्ट करने के लिए ज्यादा ताम झाम करने की जरुरत नहीं पड़ती
  • आप अपने मोबाइल से डिजिटल वॉलेट्स के मदद से इसमें पैसा इन्वेस्ट कर सकते हो
  • पैसे के लेन देन में किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होती
  • इसमें आपको किसी भी बैंक के चक्कर काटने की जरुरत नहीं पड़ती
  • यह एक डिजिटल करेंसी होने के नाते इसमें फ्रॉड होने के कम चांस होते है

Cryptocurrency के नुकसान क्या क्या है ?


अब हम बात करते है इनमे होने वाले नुकसान के क्यों की आप सभी जानते है की हर सिक्के के दो पहलु होते है।

  • इसको अभी तब भारत में पूर्णतः मान्यता नहीं मिली है
  • क्रिप्टो करेंसी पर किसी का अधिकार नहीं है इसको कोई कण्ट्रोल नहीं कर सकता
  • इसके हैक होने के चान्सेस काफी ज्यादा है
  • इसका उपयोग लोग अवैध रूप से भी करते है

Leave a Reply

Your email address will not be published.